शुभ रात्रि शायरी – जब आ जाते हैं आँसू

“जब आ जाते हैं आँसू तो रो जाते हैं; जब आते हैं ख्वाब तो खो जाते हैं; नींद आंखो में आती नहीं; बस आप ख्वाबो में आओगें; यही सोचकर हम सो जाते हैं।
शुभ रात्रि!”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *