हिंदी भाषा में शेर ओ शायरी – उम्रकैद की तरह होते हैं कुछ

उम्रकैद की तरह होते हैं कुछ रिश्ते,
जहाँ जमानत देकर भी रिहाई मुमकिन नहीं…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *