२ लाइन शायरी – यारा उदास मुस्कुराहटों के पीछे ग़म

यारा उदास मुस्कुराहटों के पीछे, ग़म के रेले हैं,
अब तुम्हे क्या बताएं, कि तुम बिन हम कितने अकेले हैं……

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *