Aarzoo Shayari – हर बार उसी से …

हर बार उसी से … गुफ़्तगू…
सौ बार उसी की … आरज़ू ;

वो पास नहीं होता .. तो भी ..
रहता है मेरे …….. रूबरू..

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *