Akela Shayari – उफ़ अकेलापन ये कितना बढ़ गया

उफ़,
अकेलापन ये कितना बढ़ गया है
सबके मोबाइल में केवल सेल्फ़ियाँ हैं…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *