attitude Shayari – तेरी दोस्ती का गुलाम हुं वरना.

तेरी दोस्ती का गुलाम हुं वरना. .
शहनशाह से भी गुलामी करवाने की नवाबीयत रखता हुं….

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading…