Bekhabar Shayari – इतना भी गुमान न कर

इतना भी गुमान न कर आपनी जीत पर ऐ बेखबर
शहर में तेरे जीत से ज्यादा चर्चे तो मेरी हार के हैं।….।।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *