Bekhabar Shayari – एक उमर बीत चली है तुझे

एक उमर बीत चली है तुझे चाहते हुए,
तू आज भी बेखबर है कल की तरह..!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *