Bekhabar Shayari – यह सोचना गलत है तुम

यह सोचना गलत है तुम पर नज़र नहीं,
मशरूफ हूँ बहुत मै पर बेखबर नहीं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *