Benaqab Shayari – आ गये तुम क्यों चमन

आ गये तुम क्यों चमन में बेनक़ाब,
उड़ गई फूलों के रूख से लालियाँ,

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *