Berukhi Shayari – अब शायद उसे किसी से

अब शायद उसे किसी से मुहब्बत ज़ुरुर हो ।
मैं छीन लाया हूँ उस से उम्र भर की बेरुख़ी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *