Bhulana Shayari – सोचा ही न था यूँ

सोचा ही न था यूँ भी उसे याद रखेंगे
जब उस को भुलाने की भी फ़ुर्सत न मिलेगी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *