Bhulna Shayari – भूलना सीखिये ज़नाब ! एक दिन

भूलना सीखिये ज़नाब !
एक दिन दुनिया भी वही करने वाली है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading…