Category: Fanaa Shayari

Fanaa Shayari – ए खुदा आज ये फ़ैसला

ए खुदा आज ये फ़ैसला करदे,
उसे मेरा या मुझे उसका करदे.
बहुत दुख सहे हे मैने,
कोई खुशी अब तो मुक़दार करदे.
बहुत मुस्किल लगता है उससे दूर रहना,
जुदाई के सफ़र को कूम करदे.
जितना दूर चले गये वो मुझसे,
उसे उतना करीब करदे.
नही लिखा अगर नसीब मे उसका नाम,
तो ख़तम कर ये ज़िंदगी और मुझे फ़ना करदे.

Fanaa Shayari – फ़ना न कर अपनी ज़िन्दगी

फ़ना न कर अपनी ज़िन्दगी को ऐ इंसान राह -ऐ -जुनून में
तब करेगा इबादत जब गुनाह करने की ताक़त न होगी


loading...