Dar Shayari – आदत मेरी अंधेरों से डरने

आदत मेरी अंधेरों से डरने की डाल कर,
एक शख्स मेरी जिंदगी को रात कर गया …….

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading…