Dard Shayari – दर्द तो अकेले ही सहते हैं

दर्द तो अकेले ही सहते हैं सभी.
भीड़ तो बस फ़र्ज़ अदा करती है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading…