Ehsaan Shayari – चेहरों के लिए आईने कुर्बान

चेहरों के लिए आईने कुर्बान किये हैं ,
इस शौक में अपने बड़े नुकसान किये हैं ।

महफ़िल में मुझे गालियाँ देकर है बहुत खुश,
जिस शख्स पर मैंने बड़े एहसान किये हैं ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading…