Hausla Shayari – ये राहें ले ही जाएंगी

ये राहें ले ही जाएंगी मंज़िल तक होंसला रख,
कभी सुना है कि अंधेरो ने सवेरा होने ना दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *