Hindi Poetry 2 Lines – तेरा ईगो तो दो दिन की

तेरा ईगो तो दो दिन की कहानी है ..
लेकिन अपनी अकड़ तो बचपन से ख़ानदानी है..

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *