Hindi sad shayari – अखबार तो रोज़ आता है

अखबार तो रोज़ आता है घर में,

बस अपनों की ख़बर नहीं आती. ❤

loading…