Hindi Sad Shayari – तू मेरी चाहत का एक लफ्ज

तू मेरी चाहत का एक लफ्ज भी ना पढ़ सका,
और मैं तेरे दिये हुए दर्द की किताब पढ़ते पढ़ते ही सोती हूँ।

loading…