Hindi Sad Shayari – मुझको ढुँढ लेता है

मुझको ढुँढ लेता है रोज किसी बहाने से,

दर्द वाकिफ हो गया हैँ मेरे हर ठिकाने से…

loading…