Hindi Sad Shayari – वक़्त नूर को बेनूर बना देता है

वक़्त नूर को बेनूर बना देता है! छोटे से जख्म को नासूर बना देता है!

कौन चाहता है अपनों से दूर रहना पर वक़्त सबको मजबूर बना देता है!