Hindi Shayari – हर शाम को मेरी मुश्किलें

हर शाम को मेरी मुश्किलें बढ़ ही जाती है,
ना जाने कौन तेरी यादों को मेरे घर का पता दे देता है !!