Jaan Shayari – थोड़े नादान थोड़े बदमाश हो

थोड़े नादान, थोड़े बदमाश हो तुम…?
मगर जैसे भी हो, मेरे लिए
मेरे जान हो तुम….

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading…