Jawaab Shayari – लबों पे अपने कुछ सवाल

लबों पे अपने कुछ सवाल ले आते थे रोज़…
वो इन्हें चूमकर… अक्सर जवाब छोड़ जाया करती थी…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading…