Jazbaat Shayari – कुछ और जज्बातो को बेताब

कुछ और जज्बातो को बेताब किया उसने,
आज मेहंदी वाले हाथो से आदाब किया उसने..!!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *