Khona Shayari – सुना था कुछ पाने के

सुना था कुछ पाने के लिए
कुछ खोना पड़ता है,
पता नहीं मुझे खो कर
उसने क्या पाया….

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading…