Kiss Shayari – बे-ख़ुदी में ले लिया बोसा

बे-ख़ुदी में ले लिया बोसा ख़ता कीजे मुआफ़
ये दिल-ए-बेताब की सारी ख़ता थी मैं न था

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading…