Koshish Shayari – जख्मों का हाल मत पूछिये

जख्मों का हाल मत पूछिये, जनाब….
कोशिशें अब भी जारी है, इन्हें नासूर बनाने वालों की..!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading…