Mulaqaat Shayari – मत कर यकीन यहां पल

मत कर यकीन यहां पल भर की मुलाकात पर।
जरुरत ना हो तो लोग यहां सालों के रिश्ते भुल जाते हैं।।।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading…