Nakhre Shayari – बहोत रोका इस दिल को!

बहोत रोका इस दिल को! लेकिन, कहाँ तक रोकता!!
मोहब्बत बढ़ती ही गई तेरे नखरों की तरह!!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading…