Naseeb Shayari – दर्द नसीब से मिलता है

दर्द नसीब से मिलता है मेरी जान..
औक़ात कहाँ है तेरी मुझे तड़पाने की..

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading…