Nasha Shayari – कभी लफ़्ज़ों में कशिश कभी

कभी लफ़्ज़ों में कशिश कभी शायरी में नशा…
हुआ जो तेरा असर अब मुझे होश कहाँ

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading…