Nasha Shayari – जिक्र तेरा है या कोई

जिक्र तेरा है, या कोई नशा है!
जब-जब होता है, दिल बहक जाता है..

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading…