Parwaah Shayari – पता नही कब जाएगी तेरी

पता नही कब जाएगी तेरी लापरवाही की आदत….
पागल कुछ तो सम्भाल कर रखती, मुझे भी खो दिया…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading…