Pyaar Shayari – कितने मजबूर हैं हम प्यार के

कितने मजबूर हैं हम प्यार के हाथों,
ना तुझे पाने की औकात…
ना तुझे खोने का हौसला।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *