Sawan Shayari – अब के सावन में ये

अब के सावन में ये शरारत मेरे साथ हुई,
मेरा घर छोड़ के कुल शहर में बरसात हुई.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *