Shaam Shayari – रात सारी तड़पते रहेंगे हम

रात सारी तड़पते रहेंगे हम अब,
आज फिर ख़त तेरे पढ़ लिए शाम को..!!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading…