Shart Shayari – एक शर्त पर खेलूँगा ये

एक शर्त पर खेलूँगा ये प्यार की बाज़ी,
मैं जीतू तो तुझे पाऊँ, और हारूँ तो तेरा हो जाऊ…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading…