Shart Shayari – तुम्हारी शर्तो से शहेनशाह बनने

तुम्हारी शर्तो से शहेनशाह बनने से बहेतर है,
की अपनी शर्तो पे फ़क़ीर बन जाऊँ ..!!!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading…