Shart Shayari – मैं रोज़ ही रोज़े रख

मैं रोज़ ही रोज़े रख लूँ….!!
मगर एक शर्त हैं तुम चाँद बन जाओ…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading…