Shiddat Shayari – कितनी शिद्दत से चाहा था

कितनी शिद्दत से चाहा था मैंने उसको
कोई दुश्मन भी होता तो निभाता उम्रभर !

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading…