Sukoon Shayari – अकेले रहने का भी एक अलग

अकेले रहने का भी एक अलग सकुन है….
.
.
ना किसी के लौट आने कि उम्मीद…!
ना किसी से अलग होने का डर…!!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *