Tag: आरज़ू पर शायरी

Aarzoo Shayari – तेरे‬ इश्क का कितना हसीन

तेरे‬ इश्क का कितना हसीन एहसास है,
लगता है जैसे तु हर ‪ पल‬ मेरे पास है,
‪मोहब्बत‬ तेरी दिवानगी बन चुकी है मेरी,
और अब जिन्दगी की ‪ आरजू‬ बस तुम्हारे साथ है ।।

Aarzoo Shayari – अब तुझसे शिकायत करना मेरे

अब तुझसे शिकायत करना, मेरे हक मे नहीं,
क्योंकि तू आरजू मेरी थी,पर अमानत शायद किसी और की !!


loading...

Aarzoo Shayari – इंतज़ार की आरज़ू अब खो

इंतज़ार की आरज़ू अब खो गयी है,
खामोशियो की आदत हो गयी है,
न सीकवा रहा न शिकायत किसी से,
अगर है तो एक मोहब्बत,
जो इन तन्हाइयों से हो गई है..!

Aarzoo Shayari – हर जज्बात को जुबान नहीं

हर जज्बात को जुबान नहीं मिलती..
हर आरजू को दुआ नहीं मिलती..
मुस्कान बनाये रखो तो साथ है दुनिया..
वर्ना आंसुओ को तो आंखो मे भी पनाह नहीं मिलती…