Taqdeer Shayari – दिल गँवा कर भी मोहब्बत

दिल गँवा कर भी मोहब्बत के मज़े मिल न सके
अपनी खोई हुई तक़दीर पे रोना आया

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading…