Udaasi Shayari – कौन कहता है मुझे ठेस

कौन कहता है मुझे ठेस का एहसास नहीं,
जिंदगी एक उदासी है जो तुम पास नहीं,

मांग कर मैं न पियूं तो यह मेरी खुद्दारी है,
इसका मतलब यह तो नहीं है कि मुझे प्यास नहीं

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading…