Wafa Shayari – इक़रार -ऐ-मुहब्बत ऐहदे-ऐ.वफ़ा सब झूठी

इक़रार -ऐ-मुहब्बत ऐहदे-ऐ.वफ़ा सब झूठी सच्ची बातें हैं “इक़बाल”
हर शख्स खुदी की मस्ती में बस अपने खातिर जीता है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading…