Yaad Shayari – यह सोच कर सब को याद

यह सोच कर सब को याद कर के सोते है हम,
पता नहीं ज़िन्दगी मैं कौन सी रात आखरी हो………

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *