Zeher Shayari – जाने ये कैसा ज़हर दिलों

जाने ये कैसा ज़हर दिलों में उतर गया…
परछाईं ज़िंदा रह गई इंसान मर गया…!!!!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *